Advertisement

गरीबों को दी जाए मुफ्त कोरोना वैक्सीन : स्वास्थ्य मंत्री

टोपे ने कहा, लॉकडाउन (lockdown) में गरीबों का आर्थिक गणित बिगड़ गया है। इसलिए, गरीबों से वैक्सीन के लिए शुल्क वसूलना ठीक नहीं होगा। केंद्र सरकार को ही इसकी लागत वहन करना चाहिए।

गरीबों को दी जाए मुफ्त कोरोना वैक्सीन : स्वास्थ्य मंत्री
SHARES

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (maharashtra health minister rajesh tope) ने मांग की है कि, सरकार से हमारी विनती है कि, राज्य में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों को कोरोना वैक्सीन (corona vaccine) मुफ्त दी जाए। उन्होंने यह भी कहा कि, यदि केंद्र इस संबंध में सही निर्णय नहीं लेता है, तो मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री सही निर्णय लेंगे। हम केंद्र सरकार से गरीबों को मुफ्त टीके उपलब्ध कराने का आग्रह करेंगे।

राजेश टोपे (rajesh tope) ने कहा कि, गरीबी रेखा से नीचे के लोगों को कोरोना वैक्सीन प्रदान करने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा, प्रारंभ में लगभग तीन करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी, जिसमें स्वास्थ्य कार्यकर्ता, फ्रंट लाइन स्टाफ और 50 वर्ष से अधिक उम्र के रोगी भी शामिल हैं। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि, वे स्वास्थ्य मंत्री के साथ बैठक करेंगे और केंद्र सरकार से गरीबों को मुफ्त टीके उपलब्ध कराने का आग्रह करेंगे।

टोपे ने कहा, लॉकडाउन (lockdown) में गरीबों का आर्थिक गणित बिगड़ गया है। इसलिए, गरीबों से वैक्सीन के लिए शुल्क वसूलना ठीक नहीं होगा। केंद्र सरकार को ही इसकी लागत वहन करना चाहिए। अगर केंद्र सरकार हमारे इस निर्णय को नहीं मानती है तो मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री राज्य सरकार के दृष्टिकोण से इस पर आगे निर्णय लेंगे।

देश के चार राज्यों में 28 और 29 दिसंबर को कोरोना टीकाकरण के लिए ड्राई रन (dry run) का आयोजन होने के बाद जल्द ही देश भर में ड्राई रन होगा। टोपे के अनुसार, दो जनवरी को राज्य के तीन जिलों में टीकाकरण के ड्राई रन के बाद, अब टीकाकरण का प्रशिक्षण 8 जनवरी को सभी जिलों में आयोजित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस ड्राई रन के लिए टीकाकरण प्रणाली कितनी अच्छी तरह से सुसज्जित है, यह देखने के लिए एक समीक्षा की जाएगी।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, राज्य सरकार कोरोना के नए रूप 'स्ट्रेन' (stren) के आने के बाद ही सजग हो गई है। ब्रिटेन से आने वाले सभी यात्रियों का टेस्ट किया जा रहा है। और पोज़िटिव आने वाले लोगों को क्वारंटाइन किया जा रहा है। साथ ही रोगी के संपर्क में अन्य लोगों की तलाश जारी है। हम ब्रिटेन से हवाई यात्रा पर प्रतिबंध को बनाए रखने के लिए केंद्र सरकार को एक पत्र भेजेंगे।  लोगों को जागरूक होना चाहिए, घबराहट नहीं। टोपे ने जनता से भी ध्यान रखने की अपील की।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें