मनसे के विजयी उम्मीदवार की जीत का झोल

वरली - वरली के प्रभाग क्रमांक 197 से निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले प्रकाश पवार इस बीएमसी चुनाव में हार गये। इस हार पर उन्होंने सवाल उठाते हुए ईवीएम में छेड़छाड़ होने का आरोप लगाया है। पवार के अनुसार एक वॉर्ड से एक ही उम्मीदवार के अलग अलग तीन आंकड़े कैसे आ सकते हैं।

पवार ने मनसे के नवनिर्वाचित नगरसेवक दत्ता नरवणकर पर चुनाव अधिकारियों के साथ मिलकर ‘गड़बड़’ करने का आरोप लगाया है। पवार की मानें तो इस वॉर्ड में 33 मतदान बूथ थे। 24 उम्मीदवारों और ‘नोटा’ को मिलकर कुल 20,668 वोट पड़े थे, लेकिन 24 उम्मीदवारों और ‘नोटा’ के वोटों की गिनती करने पर कुल 20,711 वोट हुए।

पवार ने सवाल किया कि इतने वोटर जब हैं ही नहीं तो वोट अधिक कैसे पड़े। यही नही पवार के अनुसार चुनाव अधिकारी ने जो कुल वोटों की संख्या दिखाई है वह भी अलग है। जबकि मनसे के विजयी उम्मीदवार दत्ता नरवणकर को 4419 वोट मिले और प्रकाश पवार को 705 वोट। पवार ने कहा कि वे इस संबंध में चुनाव आयोग के पास शिकायत करेंगे। जब इस बारे में दत्ता से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि पवार अपनी हार नहीं पचा पा रहे हैं।

पवार ने आशा जतायी है कि आयोग इनकी बात जरुर सुनेगा। अगर इस बाबत उनकी बात नहीं सुनी गयी तो वे कोर्ट की शरण में भी जा सकते हैं।

Loading Comments