SHARE

मुंबई के पास खुद का कोई नेता नहीं है, पब्लिक को यहां के एमपी से मतलब नहीं है और न हो मेयर से, इसीलिए मुंबई का विकास अभीतक नहीं हुआ है। यह कहना है दक्षिण मुंबई लोकसभा सीट से कांग्रेस के लिए चुनाव लड़ रहे  मिलिंद देवड़ा का। मिलिंद देवड़ा, इशू क्या है के तहत मुंबई लाइव से बात कर रहे थे।

जब मुंबई लाइव मिलिंद से बात करने पहुंचा तो वे प्रचार अभियान में जुटे हुए थे। जब मुंबई लाइव ने उनसे पूछा कि, इशू क्या है तो उन्होंने कहा कि इशू कई सारे हैं, लोकल हैं, नेशनल हैं, महिला सुरक्षा है, बेरोजगारी है, शिक्षा-स्वास्थ्य भी है।

पढ़ें: इशू क्या है: मनोज कोटक अभी बच्चे हैं- संजय दीना पाटिल

देवड़ा ने बेरोजगारी को सबसे बड़ा मुद्दा बताया, उन्होंने कहा कि आज लोगों के पास डिग्री है लेकिन रोजगार नहीं है। यह सबसे बड़ा मुद्दा है, आज चुनावी मुद्दा है लेकिन कल यह सामाजिक, राजनीतिक मुद्दा भी बन सकता है।

अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा के बारे में उन्होंने बोला कि, मेरी कोई राजनीतिक महत्वाकांक्षा नहीं है। और मैं यह कभी चाहता भी नहीं हूँ, मैं सिर्फ लोगों की सेवा करना चाहता हूं और ऐसा करके मैं काफी खुश हूं। लोगों के बीच मेरा विश्वास बना रहे यही मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण बात है।

पढ़ें: इशू क्या है: महिला सशक्तिकरण मेरे लिए मुख्य मुद्दा है- उर्मिला मातोंडकर

प्रज्ञा सिंह ठाकुर विवाद पर मिलिंद ने कहा कि प्रज्ञा सिंह ठाकुर द्वारा शहीद हेमंत करकरे के बारे में जो टिप्पणियों की उसकी कड़ी निंदा करता हूं। यह एक शहीद के प्रति अपमानजनक टिप्पणी है और एक शहीद का अपमान करने से बुरा कुछ नहीं है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें