'कांग्रेस और शिव सेना के विधायकों को बीजेपी दे रही हैं 50-50 करोड़'

वडेट्टीवार ने दावा किया कि बीजेपी के लोग शिव सेना के विधायकों को तोड़ने में तो लगे हुए हैं साथ फोन से कांग्रेस के विधायकों से भी संपर्क किया है।

SHARE

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर उठापठक के बीच अब सनसनीखेज आरोपों का सिलसिला भी शुरू हो गया है। गुरूवार को एनसीपी और कांग्रेस ने बीजेपी पर विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप लगाया था। अब फिर से कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष विजय वडेट्टीवार ने बीजेपी पर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगाते हुए कहा कि, शिवसेना के विधायकों को खरीदने के लिए भाजपा की ओर से 50 करोड़ रुपए का ऑफर दिया जा रहा है। 

शिव सेना और कांग्रेस के विधायकों को ऑफर 

वडेट्टीवार ने दावा किया कि बीजेपी के लोग शिव सेना के विधायकों को तोड़ने में तो लगे हुए हैं साथ फोन से कांग्रेस के विधायकों से भी संपर्क किया है।

उन्होंने कहा शिव सेना के साथ-साथ बीजेपी कांग्रेस के भी विधायकों को ऑफर दे रही हैं, लेकिन हमें पूरा विश्वास है कि  हमारे विधायक टूटेंगे नहीं। बीजेपी के सामने आकर यह कह देना चाहिए कि हम सरकार का गठन नहीं कर सकते। इसीलिए दूसरों को मौका दें।

उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी अपने दम पर सरकार स्थापित भी नहीं कर सकती और दूसरों को मौका भी नहीं देना चाहती। बीजेपी महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की तैयारी कर रही है। यदि ऐसा होता है, तो यह एक पाप होगा।

पढ़ें: महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन, राज्यपाल ने एडवोकेट जनरल से की चर्चा

'सबूत पेश करो'
कांग्रेस और एनसीपी के इस आरोप का खंडन करते हुए बीजेपी के नेता राम शिंदे ने कहा कि, कांग्रेस और एनसीपी के नेता पिछले पांच साल से हम पर आरोप लगाते रहे हैं, लेकिन सबूत के नाम पर आज तक कुछ भी नहीं पेश किया। अगर उनके आपस कोई सबूत है, जैसे किसने कहा, किसे फोन किया और कोई रिकॉर्डिंग तो उन्हें मीडिया के सामने रखना चाहिए। 

कांग्रेस नेता जाएंगे जयपुर?

इसी बीच यह भी खबर है कि कांग्रेस ने अपने कुछ विधायकों को राजस्थान के जयपुर भेज दिया है ताकि वे हॉर्स ट्रेडिंग से बचे रहे। साथ ही अभी और  15 से 20 विधायकों को जयपुर भेजा जा सकता है। यही नहीं शुक्रवार दोपहर वडेट्टीवार के घर पर कांग्रेस विधायकों की एक बैठक भी होनी है. जहां आगे की राज्य की स्थिति और उसमें कांग्रेस की भूमिका को लेकर चर्चा हो सकती है।

लेकिन पार्टी के ही एक नेता ने इस बात का खंडन किया है। उनका कहना है कि किसी को जयपुर नहीं भेजा गया है। जो विधायक जयपुर गए हैं, वे व्यक्तिगत रूप से अपने परिवार के सदस्यों के साथ पर गए हैं। हमारे सभी नेता यहां सुरक्षित हैं।

पढ़ें: कांग्रेस-एनसीपी का सनसनीखेज दावा, बीजेपी हमारे विधायकों को फोन कर तोड़ने की कर रही है कोशिश

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें