Advertisement

मुख्यमंत्री ने बिजली गुल होने की जांच के दिए आदेश


मुख्यमंत्री ने बिजली गुल होने की जांच के दिए आदेश
SHARES

मुंबई (mumbai) सहित आसपास के इलाके में बिजली गुल (power cut) होने की घटना को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) ने जांच के आदेश दिए हैं। ऊर्जा मंत्री डॉ. नितिन राउत (nitin raut) के साथ इस मुद्दे पर चर्चा भी किया और जल्द बिजली बहाली के आदेश दिए। साथ ही उन्होंने, ऐसी घटनाओं को भविष्य में दोबारा न होने से संबंधित जरूरी सावधानी के भी बरतने को कहा। मुंबई ब्लैक आउट (black out) का जिम्मेदार व्यक्ति की जांच कर कार्रवाई करने का भी आदेश दिया।

इस बीच मुख्यमंत्री ने BMC कमिश्नर इकबाल सिंह चहल (iqbal singh chahal) को यह भी निर्देश दिया कि अस्पतालों में बिजली आपूर्ति की वैकल्पिक व्यवस्था सुचारू रूप से बनाए रखी जाए ताकि मरीजों को कोई समस्या न हो।

इस दौरान कोई अप्रिय घटना न घटे, मुख्यमंत्री मुख्य सचिव और मंत्रालय नियंत्रण कक्ष को आदेश देकर दमकल विभाग और नियंत्रण कक्ष को सतर्क रहने के लिए कहा है। साथ ही किसी भी मौके पर तत्काल सहायता पहुंचे, इस बाबत भी तैयार रहने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने उपनगरीय रेलवे को प्रभावित यात्रियों को तत्काल राहत देने के लिए रेलवे प्रशासन के साथ समन्वय करने का निर्देश दिया।

ग्रिड फेल (grid fail) होने के कारण सोमवार सुबह 10 बजे के लगभग मुंबई और आसपास के इलाको में पूरी तरह से बिजली की आपूर्ति कट गई। जिससे मुंबई लोकल ट्रेंन (local train) भी खड़ी हो गई।

मुंबई के लालबाग, परेल, अंधेरी, दादर, ठाणे, वडाला और ठाणे के साथ साथ नवी मुंबई में भी लाइट गुल हो गई थी। मुंबई में पश्चिमी और मध्य रेलवे की सेवाएं अचानक बिजली बंद होने के कारण ठप्प पड़ गईं।

हालांकि, मुंबई में बिजली की आपूर्ति ढाई घंटे से अधिक समय के बाद फिर से शुरू हुई। मुंबई, ठाणे, कल्याण, नवी मुंबई क्षेत्र में बिजली की आपूर्ति धीरे-धीरे शुरू हो रही है। लोकल रेल सेवा भी पटरी पर लौट आई है।
Read this story in मराठी
संबंधित विषय