Advertisement

लोकल ट्रेन चालू करो वर्ना करेंगे सविनय आंदोलन: मनसे


लोकल ट्रेन चालू करो वर्ना करेंगे सविनय आंदोलन: मनसे
SHARES

महाराष्ट्र की राजनीतिक पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (maharashtra navnirman sena) की तरफ से भी लोकल ट्रेन (local train) को चालू करने की मांग की गई है। बुधवार को मनसे के महासचिव संदीप देशपांडे (sandeep deshpande) ने सोशल मीडिया (social media) में दो वीडियो पोस्ट किया जिसमें बेस्ट (best) की बसों में यात्रियों की भीड़ दिखाई दे रही है। इस वीडियो के आधार पर संदीप देशपांडे (sandeep deshpande) ने राज्य सरकार पर सवाल उठाया है और चेतावनी देते हुए कहा कि यदि लोकल ट्रेन (local train) चालू नहीं की गई, तो हम सविनय आंदोलन (Civil disobedience) करेंगे। गौरतलब है कि, मुंबई में अब लोकल ट्रेनों में आम लोगों को भी यात्रा करने की मंजूरी दिए जाने की मांग जोर पकड़ रही है।

मुंबई लाइव से बात करते हुए संदीप देशपांडे ने कहा, हमारी बस यही मांग है कि लोकल ट्रेनों को भी अब आम लोगों के लिए शुरू कर देना चाहिए, क्योंकि लोकल ट्रेनों को शुरू नहीं करने से लोगों को काफी परेशानी हो रही है। लोग अपने काम पर नहीं जा पा रहे हैं। 

देशपांडे ने बेस्ट बस में भीड़ का वीडियो ट्वीट कर ठाकरे सरकार से सवाल किया है कि क्या बस की भीड़ से कोरोना (Coronavirus) का खतरा नहीं है। क्या सिर्फ लोकल ट्रेन से ही कोरोना (Covid-19) का खतरा है। सरकार का इसके पीछे क्या लॉजिक है, समझ में नहीं आ रहा है।

उन्होंने कहा, अब सब दूकान और ऑफिस खुल रहे हैं तो लोग आएंगे जाएंगे कैसे? कम से कम ट्रेन चालू करने से सफर तो आसान होगा।

यह पूछे जाने पर की, क्या मनसे की तरफ से लोकल शुरू करने के लिए कोई डेड लाइन दी गयी है, तो मनसे के महासचिव ने कहा, अभी नहीं। लेकिन जल्द ही सरकार को डेड लाइन भी दी जाएगी।

मनसे नेता ने आगे कहा, अगर सरकार की तरफ से हमारी मांग नहीं मानी गयी तो हमें सविनय आंदोलन (Civil disobedience) के लिए विवश होना पड़ेगा।

उन्होंने आगे कहा कि, मुंबई के बाहर जो नाला सोपारा, वसई, विरार, ठाणे, कल्याण, अंबरनाथ, बदलापुर कर्जत और कसारा जैसे दूर इलाकों में रहते हैं, वहां से आने जाने वाले नागरिकों को कई घंटों तक सफर करना पड़ रहा है। इससे सरकार के प्रति आमजन का गुस्सा भी चरम पर है।

आपको बता दें कि लोकल ट्रेनों में अभी अतिआवश्यक सेवा से जुड़े लोगों को ही आने-जाने की अनुमति है। उसके लिए सरकार की ओर से बकायदा क्यूआर कोड (QR Code) जारी किया गया है। लोकल ट्रेन में आम लोगों के भी यात्रा करने की मांग को लेकर विरार, नालासोपारा और बोरीवली जैसे स्टेशनों पर यात्री हंगामा भी कर चुके हैं।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement