Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
58,76,087
Recovered:
56,08,753
Deaths:
1,03,748
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
15,122
660
Maharashtra
1,60,693
12,207

पुलिस की पाबंदी के बाद भी निकलेंगे मोर्चा, MNS की धमकी

मनसे (mns) की तरफ से इस बढ़े हुए बिजली बिल का विरोध प्रदर्शन मुंबई में भी किए जाने की योजना है। हालांकि, मुंबई पुलिस ने इस विरोध प्रदर्शन की अनुमति देने से इनकार कर दिया है।

पुलिस की पाबंदी के बाद भी निकलेंगे मोर्चा, MNS की धमकी
Symbolic photo
SHARES

कोरोना (Covid19) की पृष्ठभूमि के खिलाफ मुंबई (mumbai) सहित पूरे राज्य में तालाबंदी  (lockdown) की गई।  इस लॉकडाउन (lockdown) के दौरान, घर बैठे नागरिकों को वित्तीय संकट (financial crisis) का सामना विभिन्न रूपों का करना पड़ा। इसमें सबसे महत्वपूर्ण 'बिजली बिल' है। लॉकडाउन के दौरान बढ़े हुए बिजली बिल भेजने पर काफी हो हल्ला मचा था।

कई लोगों का कहना था कि, लॉकडाउन के कारण पहले से ही वित्तीय स्थिति खराब हो गई है, तो ऐसे में बिजली बिल का भुगतान कैसे करें?  

इस मामले में BJP सहित अन्य विपक्षी पार्टियों ने इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी किया। इस मुद्दे को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (mns) ने भी जोरशोर से उठाया था। अब एक बार फिर से मनसे ने इस मुद्दे को लेकर सरकार के खिलाफ अपना झंडा बुलंद कर दिया है।

मनसे ने निर्णय लिया है कि वह इस बढ़े हुए बिजली बिल के खिलाफ राज्य भर में जिलाधिकारी कार्यालय के सामने मोर्चा निकालेगी।

मनसे (mns) की तरफ से इस बढ़े हुए बिजली बिल का विरोध प्रदर्शन मुंबई में भी किए जाने की योजना है। हालांकि, मुंबई पुलिस ने इस विरोध प्रदर्शन की अनुमति देने से इनकार कर दिया है।

लेकिन मनसे का कहना है कि, मुंबई पुलिस (mumbai police) के अनुमति नहीं देने के बाबजूद भी मनसे मोर्चा का आयोजन जरूर करेगी।

मनसे की तरफ से मुंबई में म्हाडा कार्यालय (mhada office) से लेकर कलेक्टर कार्यालय तक मोर्चा प्रदर्शन निकालने की योजना थी। इसके लिए मनसे की तरफ से मुंबई पुलिस से अनुमति मांगी गई थी।

चूंकि, मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) का निवास जिला कलेक्टर कार्यालय के पास है। इसलिए, पुलिस ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए इस मोर्चा प्रदर्शन के लिए अनुमति देने से इनकार कर दिया है। हालांकि पुलिस ने मनसे को कलेक्टर कार्यालय के सामने प्रदर्शन करने की अनुमति दे दी है।

इस मामले में मनसे के नेता और पूर्व विधायक बाला नांदगांवकर (bala nandganvkar) का कहना है कि, मनसे मोर्चा प्रदर्शन करने केे लिए अडिग है। प्रदर्शन का मार्ग बदल दिया गया है, कार्यकर्ताओं ने जानकारी दी है कि राजयोग होटल से लेकर जिला कलेक्टर कार्यालय तक मोर्चा प्रदर्शन करने को कहा गया है।

एमएनएस नेता बाला नंदगांवकर ने आगे कहा कि, बिजली के बढ़े हुए बिल के खिलाफ हमारा यह विरोध बहुत शांति से होगा। प्रदेश भर के सभी पदाधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा, इस मोर्चे में सभी कोरोना प्रोटोकॉल  (corona protocol) का पालन किया जाएगा।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें