मनसे नेता ने लिखा गिनीज वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स पत्र, भारत का नाम दयनीय स्थिती में दर्ज करने की मांग


SHARE

पेट्रोल और डीजल की कीमतें तेजी से बढ़ी हैं,देशभर में पेट्रोल और डीजल की किमत में बढ़ोत्तरी को रोकने के लिए भारत बंद का आव्हान भी किया गया ,लेकिन केंद्र सरकार पेट्रोल की किमतों को कम करने पर जरा भी ध्यान नहीं दे रही है। पेट्रोल और डीजल की किमत बढ़ने के कारण अब महंगाी भी बढ़ने लगी है। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना पेट्रोल और डीजल की बढ़ती किमतों पर विरोध करने का एक अनोखा तरिका खोज निकाला है। । मनसे ठाणे जिला अध्यक्ष अविनाश जाधव ने गिनीज वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स को एक पत्र लिखा है, इस पत्र में उन्होने भारत को दयनीय स्थिती में दर्ज करने की मांग की है।

पिछले कुछ महीनों से, ईंधन की कीमतें बढ़ रही हैं और पिछले कई सप्ताह में पेट्रोल और डीजल की कीमतों ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है। मुंबई में पेट्रोल 90 के पास पहुंच गया है। पूरे देश में ईंधन की वृद्धि के खिलाफ आंदोलन हुआ तो वही केंद्र सरकार यह कहने में जल्दबाजी में है कि ईंधन की कीमतें हमारे हाथों में नहीं हैं।

मनसे ठाणे जिला अध्यक्ष अविनाश जाधव ने मुंबई लाइव से बात करते हगुए कहा की यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जब आम जनता ईंधन और मुद्रास्फीति कम होने की प्रतिक्षा कर रही है तो सरकार हाथ पिछें कर रही है।

यह भी पढ़े- रेलवे दुर्घटनाओं में 2017 तक 3014 यात्रियों की मौत

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें