किसानों की कर्जमाफी पर मुंबईकरों की क्या है राय?

प्रभादेवी - महाराष्ट्र विधानसभा में बजट पेश किये जाने के दौरान हंगामा करने के कारण विपक्षी दल कांग्रेस और राकांपा के 19 विधायकों को सदन से नौ महीने के लिए निलंबित कर दिया गया। संसदीय मामलों के मंत्री गिरिश बापट ने इस संबंध में एक प्रस्ताव पेश किया और उसे विधानसभा ने स्वीकार कर लिया। इसके बाद कांग्रेस के नौ और राकांपा के 10 सदस्यों को 31 दिसंबर तक सदन से निलंबित कर दिया गया।
इसपर मुंबईकरों का कहना है कि किसानों को कर्ज माफी मिलनी चाहिए लेकिन किसानों को यह नहीं मिल रहा है। राज्य सरकार ने कर्ज माफी का वादा किया, लेकिन वितरित नहीं किया। एक अन्य मुंबईकर ने कहा कि किसान तो सिर्फ मोहरे हैं, असल फायदा तो कर्ज देने वालों को होगा। आईए सुनते हैं उनका इस मुद्दे पर क्या सोचना है?

Loading Comments