कर्नाटक सरकार के कृत्यों के विरोध में शिवसेना


कर्नाटक सरकार के कृत्यों के विरोध में शिवसेना
SHARES

मुंबई - 1 नवंबर को काला दिवस मनाने वाले मराठी भाषी जनता के विरोध में कर्नाटक सरकार और पुलिस बदले की कार्रवाई कर रही है। उन्हें घरों में घुसकर पीटा जा रहा है और गिरफ्तार किया जा रहा है। मराठी भाषी लोगों पर राजद्रोह का केस बनाया जा रहा है। विरोध मोर्चा में शामिल महापौर-उपमहापौर को कारण बताओं नोटिस भेजकर पालिका को बर्खास्त करने की साजिश की जा रही है। यह गुंज सुनाई दी शुक्रवार को पालिका महासभा की बैठक में। जहां शिवसेना सभागृह नेता तृष्णा विश्वासराव ने कर्नाटक सरकार और पुलिस के इस कृत्य पर विरोध जताया। इस मुद्दे पर जारी चर्चा के दौरान नोटबंदी और पैसे के मुद्दे पर जारी बहस के बाद महासभा का स्थगित कर दिया गया।

संबंधित विषय