Advertisement

नागरिक संशोधन बिल को लेकर ओवैसी ने शिव सेना पर कसा तंज, कहा- शिव सेना का भांगड़ा पॉलिटिक्स चालू है

ओवैसी ने कहा शिव सेना ने नागरिक संशोधन बिल पर धर्मनिरपेक्ष शब्द का मजाक उड़ाते हुए उस पर वोट किया।

नागरिक संशोधन बिल को लेकर ओवैसी ने शिव सेना पर कसा तंज, कहा- शिव सेना का भांगड़ा पॉलिटिक्स चालू है
SHARES


नागरिक संशोधन बिल सोमवार को लोकसभा में पास हो गया। इस बिल के समर्थन में शिव सेना के सांसदों ने भी अपना वोट दिया था, जबकि महाराष्ट्र में शिव सेना और बीजेपी के बीच चल रहे टकराव को सभी जानते हैं। इसी बात को लेकर MIM प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने शिव सेना पर तंज कसते हुए कहा कि, नागरिक संशोधन बिल पर शिव सेना का भांगड़ा पॉलिटिक्स चालू है।


क्या कहा ओवैसी ने?

मीडिया से बात करते हुए ओवैसी ने कहा कि, एक तरफ शिव सेना, कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिल कर महाराष्ट्र में महाविकास आघाड़ी के नाम से सरकार चला रही है। इस आघाड़ी ने महाराष्ट्र में मिनिमम कॉमन प्रोगाम नाम से प्रस्ताव पेश किया था जिसमें धर्मनिरपेक्ष शब्द का प्रयोग करते हुए राज्य में उसी के अनुरूप सरकार चलाने की बात कही गयी थी, जबकि दूसरी तरफ इसी शिव सेना ने नागरिक संशोधन बिल पर धर्मनिरपेक्ष शब्द का मजाक उड़ाते हुए उस पर वोट किया। शिव सेना का यह दोहरा चरित्र है, शिव सेना का यह भांगड़ा पॉलिटिक्स चालू है।

कांग्रेस सांसद हुसैन दलवई ने लोकसभा में शिव सेना द्वारा  बिल को समर्थन दिए जाने पर नाराजगी व्यक्त की थी। इसके बाद शिव सेना के सांसद अरविंद सावंत ने स्पष्टीकरण देते हुए कहा था कि, यह बिल देशहित में था, इसीलिए शिव सेना ने इसका समर्थन किया। महाराष्ट में मिनिमम कॉमन प्रोग्राम एक अलग उद्देश्य के लिए तैयार किया गया है। 

हालाँकि, इस बिल को लेकर शिवसेना पार्टी के प्रमुख और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी कहा कि जब तक इस विधेयक में स्पष्टीकरण नहीं दिया जाता है, तब तक राज्यसभा में कोई समर्थन नहीं होगा, क्योंकि इस विधेयक में स्पष्टता नहीं है।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय