भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या


SHARE

संत भय्यूजी महाराज ने कथित तौर पर खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है की उन्हे गंभीर अवस्था में में इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उन्हे मृत घोषित कर दिया गया है। पुलिस की फॉरेंसिक टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है। भय्यू जी महाराज को गोली लगने की जानकारी मिलने के बाद बड़ी संख्या में उनके अनुयायी बॉम्बे हॉस्पिटल पहुंच गए हैं।


राज्यमंत्री पद के ऑफर को किया मना

आपको बता दे की अभी कुछ महीनों पहले ही संत भय्यूजी महाराज ने शादी की थी, इसके साथ ही मध्य प्रदेश सरकार ने उन्हे राज्यमंत्री पद का भी ऑफर दिया था जिन्हे उन्होने मना कर दिया था।भय्यूजी महाराज चर्चा में तब आए जब अन्ना हजारे के अनशन को खत्म करवाने के लिए तत्कालीन केंद्र सरकार ने अपना दूत बनाकर भेजा था। बाद में अन्ना ने उनके हाथ से जूस पीकर अनशन तोड़ा था। पीएम बनने के पहले गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मोदी सद्भावना उपवास पर बैठे थे। तब उपवास खुलवाने के लिए उन्होंने भय्यूजी महाराज आमंत्रित किया था।

यह भी पढ़े- Live Updates - कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मुंबई दौरा


बड़ी बड़ी हस्तियां आती थी आश्रम में

पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री विलासराव देखमुख,शरद पवार,लता मंगेशकर,उद्धव ठाकरे और मनसे के राज ठाकरे,आशा भोंसले,अनुराधा पौडवाल,फिल्म एक्टर मिलिंद गुणाजी भी उनके आश्रम आ चुके हैं।

यह भी पढ़े- जेल से बाहर आने के बाद छगन भुजबल का बयान, कभी नहीं छोड़ूंगा NCP!

30 अप्रैल 2017 को दूसरी शादी

भय्यूजी महाराज का जन्म 1968में हुआ था।  भय्यूजी महाराज का असली नाम उदयसिंह देखमुख है। सदगुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट उनके ही देखरेख में चलता है। 
उनका मुख्य आश्रम इंदौर के बापट चौराहे पर है। उनकी पत्नी माधवी का दो साल पहले निधन हो चुका है। जिसके बाद उन्होने दूसरी शादी की थी।  उन्होंने 30 अप्रैल 2017 को एमपी के शिवपुरी की डॉ.आयुषी के साथ दूसरी शादी की।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें