शिवस्मारक, मोदी आगमन और बीजेपी-शिवसेना का महादंगल

    मुंबई  -  

    मुंबई - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को शिवस्मारक के भूमिपूजन कार्यक्रम के लिए मुंबई आए थे। इस मौके पर कांग्रेस के संजय निरुपम ने उनका विरोध करने का प्रयास किया। उसी दौरार श्रेय लेने की लढ़ाई में शिवसेना-बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने घोषणाबाजी शुरु कर दी।

    नरेंद्र मोदी का जलपूजन कार्यक्रम शांति से पूरा हो इसलिए शुक्रवार की शाम मच्छीमार संगठन के नेता और कार्यकर्ताओं को पुलिस ने अपने अधिकार में लिया था। मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष संजय निरुपम ने नोटबंदी के खिलाफ बांद्रा-कुर्ला कॉम्पलैक्स में मूक मोर्चा का आयोजन किया था। पुलिस ने आंदोलन करने के लिए मना किया था। जिसके चलते पुलिस ने उन्हे उनके घर पर नजरबंद किया था, कुछ समय बाद कार्र्यकर्ताओं समेत निरुपम को वर्सोवा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

    वहीं दूसरी तरफ पीएम नरेंद्र मोदी के बांद्रा-कुर्ला कॉम्पलैक्स आते ही बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने जमकर घोषणाबाजी की। चंद्रकांत पाटील के भाषण के समय शिवसैनिकों ने जोर पकड़ा और और आवाज को बल दिया। शिवसैनिकों ने आवाज कुणाचा शिवसेनेचा (किसकी आवाज, शिवसेना की) इस तरह की घोषणाबाजी की। वहीं बीजेपी की ओर से हर हर मोदी, घर घर मोदी की घोषणाबाजी हुई। इसी दौरान पीएम के स्टेज पर पहुंचते ही शिवसैनिक और बीजेपी कार्यकर्ता भिड़ गए। आखिर देवेंद्र फडणवीस ने शांत होने की अपील की।
    कुछ समय बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भाषण देने के लिए आए तभी एक बाऱ फिर शिवसैनिकों ने जोर पकड़ा कोण आला रे कोण आला शिवसेनेचा वाघ आला (कौन आया-कौन आया, शिवसेना का शेर आया) इस तरह की गर्जना की। एक तरफ दोनो पार्टियों के वरिष्ठ नेता मान रहे हैं कि दोनों पार्टियों के बीच सब ठीक है पर कार्यकर्ताओं का रवैया कुछ अलग ही बयां कर रहा है।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.