विपक्ष हुआ आक्रामक, बड़े नेताओं ने उठाई खुद के निलंबन की मांग

 Mumbai
विपक्ष हुआ आक्रामक, बड़े नेताओं ने उठाई खुद के निलंबन की मांग

मुंबई - किसानों की कर्जमाफी के लिए आक्रामक भूमिका अपनाने वाले 19 विधायकों के खिलाफ कार्रवाई की गई, लेकिन इस इस मांग को लेकर हम भी आक्रामक थे, इसलिए हमें भी निलंबित किया जाए, ऐसी मांग विधानसभा में विरोधी पक्ष नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल, पूर्व उपमुख्यमंत्री अजीत पवार और राष्ट्रवादी कांग्रेस के गटनेता जयंत पाटील ने विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर की है। 

विधानसभा अध्यक्ष हरीभऊ बागडे को लिखे इस पत्र में पिछले 2 सप्ताह के दौरान विरोधी पक्ष द्वारा लगातार किसानों की कर्जमाफी की मांग का उल्लेख किया गया है। विधानसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र में निलंबित विधायकों के निलंबन अवधि के दौरान विरोधी पक्ष नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल, पूर्व उपमुख्यमंत्री अजीत पवार और राष्ट्रवादी कांग्रेस के गटनेता जयंत पाटील ने खुद को भी निलंबित करने की मांग की है।

महाराष्ट्र विधानसभा में बजट पेश किये जाने के दौरान हंगामा करने के कारण विपक्षी दल कांग्रेस और राकांपा के 19 विधायकों को सदन से नौ महीने के लिए निलंबित कर दिया गया। कांग्रेस के नौ और राकांपा के 10 सदस्यों को 31 दिसंबर तक सदन से निलंबित कर दिया गया है।

Loading Comments