Advertisement

महाराष्ट्र बंद! जानिए क्या चालू ,क्या बंद

11 अक्टूबर को महाराष्ट्र बंद का आवाहन किया गया है

महाराष्ट्र बंद! जानिए क्या चालू ,क्या बंद
SHARES

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ दल ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (lakhimpir kheeri) में किसानों की हत्या के विरोध में 11 अक्टूबर को राज्यव्यापी बंद (Maharashtra bandh)  का आह्वान किया है। एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना के शासन वाले महाराष्ट्र विकास अघाड़ी (MVA) ने बंद का आह्वान किया है।

बेस्ट की बस फिलहाल बंद,

निजी बस चालक भी नही निकाल रहे है बसे

मुंबई डब्बेवाले भी बंद में शामिल

लोकल ट्रेन सेवा फिलहाल सामान्य

मुंबई में दुकान शाम 4 बजे तक रहेगी बंद

APMC मार्केट रहेंगे बंद

लासलगांव मंडी समिति में प्याज-अनाज की नीलामी बंद, 25-30 करोड़ रुपये का लेन-देन ठप

दादर सब्जी मार्केट चालू

रिक्शा और टैक्सी फिलहाल चालू

वाशी APMC मार्किट बंद

ठाणे में भी बस सेवा प्रभावित

ठाणे में बंद का असर, कई दुकानें बंद

ST बस सेवा रहेगी शुरू, ST प्रशासन ने लिए फैसला

राज्यव्यापी बंद के मद्देनजर सख्त होगी गश्त: मुंबई पुलिस

वर्ली डिपो में बसे खड़ी, सेवा पर असर

ठाणे - NCP कार्यकर्ताओं ने निकाली रैली, मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

चेंबूर में अडानी बिजली कार्यालय के बाहर मजदूरों ने विरोध प्रदर्शन शुरू किया, कर्मचारी काली पट्टी बांधकर और नारेबाजी करते हुए हड़ताल में शामिल हुए।

राज्यसभा सांसद और शिवसेना नेता संजय राउत का कहना है कि महाराष्ट्र बंद सफल रहा।

बेस्ट बसों को धारावी, मानखुर्द, शिवाजी नगर, चारकोप, ओशिवारा, देवनार और मलाड में इनऑर्बिट मॉल के पास नुकसान पहुचाया गया

ग्रांट रोड इलाके में भी दिखा बंद का असर, दुकाने रही बंद

महाविकास अघाड़ी ने कहा कि देश में किसानों के पीछे राज्य सरकार खड़ी है यह दिखाने के लिए बंद का आह्वान किया गया है।  शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या के विरोध में 11 अक्टूबर को महाराष्ट्र बंद में शामिल होगी।


NCP प्रवक्ता नवाब मलिक और कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत के साथ संवाददाता सम्मेलन में राउत ने कहा कि लोगों को केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों के प्रति जागरूक करने की जरूरत है। इस संघर्ष में किसान अकेले नहीं हैं और उनके साथ एकजुटता दिखाने की प्रक्रिया महाराष्ट्र से शुरू होनी चाहिए।

नवाब मलिक ने कहा, 'हम लोगों से एक साथ आने की अपील करते हैं।  आपको अपना काम एक दिन के लिए बंद कर देना चाहिए।  दुकानदार अपनी दुकानें बंद रखें। तीनों पार्टियों के कार्यकर्ता दुकानों, प्रतिष्ठानों और लोगों से किसानों के प्रति अपना समर्थन दिखाने की अपील करेंगे। 

व्यापारी संगठनों ने भी मुंबई में शाम 4 बजे तक दुकान बंद रखने का फैसला किया है।

मलिक ने आगे कहा कि बंद रविवार आधी रात से लागू किया जाएगा। उन्होंने कहा, “हम सभी कार्यकर्ताओं से अपील करते हैं कि बंद के दौरान अस्पताल, एम्बुलेंस, मेडिकल स्टोरी, दूध की आपूर्ति जैसी आवश्यक सेवाओं के लिए कोई समस्या पैदा न करें।” इसके साथ ही ट्रेन और बेस्ट बस भी शुरू रहेंगी।

ट्रेड यूनियनों ने सोमवार को महाराष्ट्र बंद में शामिल होकर पुणे कृषि उपज मंडी समिति (APMC) को बंद रखने का फैसला किया है।  छत्रपति शिवाजी मार्केट यार्ड ट्रेडर्स एसोसिएशन ने घोषणा की है कि सोमवार को सभी फल, सब्जी, प्याज और आलू बाजार बंद रहेंगे।  ट्रेड एसोसिएशन ने भी सभी सदस्यों से सोमवार को अपना कारोबार बंद रखने की अपील की है।  उन्होंने किसानों से सोमवार को अपनी कृषि उपज मंडी में नहीं लाने की अपील की।

उधर, भारतीय जनता पार्टी ने महाराष्ट्र को बंद करने के फैसले का विरोध किया है। विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि सत्तारूढ़ दल लखीमपुर खीरी घटना का राजनीतिकरण कर रहा है।  3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ेछात्र को हुआ कोरोना, तीन हफ्ते के लिए स्कूल बंद!

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें