अमाराठी नगरसेवकों की संख्या में कितनी बढ़ोत्तरी...जाने यहां

 Mumbai
अमाराठी नगरसेवकों की संख्या में कितनी बढ़ोत्तरी...जाने यहां

मुंबई - ऐसा कहा जा रहा है कि मुंबई में मराठी लोगों की संख्या कम हुई है पर ऐसा नहीं है। इस बार के बीएमसी चुनाव में लगभग 144 मराठी लोग चुनकर आए हैं। हालांकि वर्तमान नगरसेवकों की तुलना में इस बार के बीएमसी चुनाव में 8-10 फीसदी अमाराठी नगरसेवक चुनकर आए हैं। फिर भी माराठी लोगों की संख्या में कमी नहीं आई है।

बीएमसी में कामकाज की भाषा मराठी है। पर इस बार के चुनाव में अमाराठी उम्मीदवारों की संख्या अधिक थी। जनता ने इन अमाराठी उम्मीद्वारों को जोर शोर से वोटिंग भी की है। इसके बावजूद भी सभागृह में 60 फीसदी से अधिक मराठी नगरसेवक की आवाज गूंजने वाली है।

वर्तमान बीएमसी में 64 अमराठी नगरसेवक हैं। पर इस बार के बीएमसी चुनाव लगभग 83 अमराठी नगरसेवक चुनकर आए हैं। बीएमसी चुनाव में बीजेपी के 42, शिवसेना के 5, कांग्रेस के 22, निर्दलीय और एमआयएम प्रत्येक के 2, समाजवादी और राष्ट्रवादी कांग्रेस प्रत्येक ते 5 इस तरह से अमराठी नगरसेवक चुनकर आए हैं। वर्तमान बीएमसी में शिवसेना के 1, कांग्रेस के 29, बीजेपी के 12, राष्ट्रवादी कांग्रेस 4, समाजवादी पार्टी के 6, निर्दलीय के 8, आरपीआई के 1 और नामनिर्देशित सदस्य 3 इस तरह से 64 अमराठी नगरसेवक हैं। इइसकी तुलना में 19 अमराठी नगरसेवकों की संख्या में वृद्धि हुई है।


Loading Comments