ऐड गुरु एलीक पदमसी का निधन

पदमसी ने अपने जीवनकाल में कई चर्चित विज्ञापन बनाए। इनमें झरने में नहाती ‘लिरिल गर्ल’, ‘हमारा बजाज’, सर्फ पाउडर का ‘ललिता जी’ वाला विज्ञापन आदि प्रमुख हैं।

SHARE

जाने माने विज्ञापन गुरु एलीक पदमसी का शनिवार को मुंबई में 90 साल की उम्र में निधन हो गया। साल 2000 में उन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

एलीक पदमसी को ‘आधुनिक भारतीय विज्ञापन जगत का पितृपुरुष’ माना जाता था। उन्होंने लिंटास के नाम से विज्ञापन एजेंसी की स्थापना की थी। यह सालों साल तक विज्ञापन की दुनिया में देश की शीर्ष एजेंसी के तौर पर गिनी जाती रही है।

पदमसी ने अपने जीवनकाल में कई चर्चित विज्ञापन बनाए। इनमें झरने में नहाती ‘लिरिल गर्ल’, ‘हमारा बजाज’, सर्फ पाउडर का ‘ललिता जी’ वाला विज्ञापन आदि प्रमुख हैं। उन्होंने 1982 में ‘गांधी’ फिल्म में पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना की भूमिका भी निभाई थी।

पदमसी महज सात साल की उम्र में वे रंगमंच की दुनिया में आ गए थे। उस वक्त उन्होंने विलियम शेक्सपियर के लिखे नाटक ‘मर्चेंट ऑफ वेनिस’ में अभिनय किया था। यह नाटक उनके बड़े भाई बॉबी पदमसी ने डायरेक्ट किया था। इसके बाद एलीक पदमसी ने भी कई नाटकों का निर्देशन किया। इनमें पहला नाटक ‘टेमिंग ऑफ द श्र्यू’ था। उनके निधन पर कई जाने-माने लोगों ने श्रद्धांजलि व्यक्त की है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें

YouTube वीडियो