Advertisement

एलिफिंस्टन में FOB बनाने का काम सेना ने किया शुरू

एलिफिंस्टन के अलावा क़रीरोड और अम्बिवली में भी सेना पुल बनाने का काम करेगी।

एलिफिंस्टन में FOB बनाने का काम सेना ने किया शुरू
SHARES

एलिफिंस्टन रेलवे स्टेशन पर भगदड़ में लगभग 27 लोगों की मौत के बाद रेल मंत्रालय ने यहां तत्काल रूप से FOB (फुट ओवर ब्रज) बनाने का जिम्मा भारतीय सेना को सौंपा था। गुरूवार को सेना ने यहां FOB बनाने का काम शुरू कर दिया। इस काम के लिए रेलवे सुरक्षा आयुक्त की अनुमति एक-दो दिन में मिल जाएगी। एलिफिंस्टन के अलावा सेना करी रोड और आंबिवली में भी FOB बनाएगी।

फरवरी में खुलेगा यात्रियों के लिए - सीएम 

मुख्यमंत्री देवेंद्र ने बताया कि पुल का स्ट्रक्चर 5 दिनों के अंदर बन कर तैयार हो जायेगा। उन्होंने आशा जताई कि सेना द्वारा बनाये जा रहे इस पुल को बनाने का लक्ष्य 31 जनवरी 2018 तक रखा गया है। इसे फरवरी महीने में यात्रियों के लिए खोल दिया जायेगा।

यह भी पढ़ें : एलिफिंस्टन रेलवे हादसा : मरे के 6 और परे के 4 रेलवे स्टेशनों के पुल और ब्रिज का हुआ ऑडिट

रात में रहेगा मेगा ब्लॉक

काम को निर्धारित समय में पूरा करने के लिए रविवार को मेगा ब्लॉक तो रहेगा इसके अलावा रात में भी मेगा ब्लॉक रखा जायेगा।

ऐसा होगा FOB

सूत्रों के अनुसार इस FOB को वेस्टर्न और सेन्ट्रल रेलवे के बीच परेल टर्मिनस के बीच 3.24  मीटर चौड़ा और 110 मीटर लंबा बनाया जाएगा। यह ब्रिज बेली पद्धति से बनाया जाएगा। इस ब्रिज को बनाने के लिए 5 करोड़ रूपये का बजट निर्धारित किया गया है। सेन्ट्रल और वेस्टर्न रेलवे की तरफ से 50 लाख रूपये सेना को दिया गया है। इसी स्टेशन पर चर्चगेट की तरफ रेलवे 12 मीटर चौड़ा एफओबी भी बना रही है। इसके कारण सामान रखने की परेशानी आ रही है इसीलिए रेलवे की तरफ से सेना द्वारा बनाए जा रहे एफओबी का सामान रखने के लिए दूसरी जगह देख रहे हैं।

यह भी पढ़ें : एलिफिंस्टन हादसे के बाद हॉकर्स और फेरीवालों पर कहर बन कर बरस रही बीएमसी

5 दिन में तैयार हो सकता है पुल - सेना

सेना के अनुसार यह FOB 5 दिन में बन कर तैयार हो सकता है लेकिन मुंबई में रेल यातायात की अधिक फ्रीक्वेंसी, हाई वॉल्टेज के ओवरहेड वायर्स और अन्य तकनीकी अड़चनों के कारण काम करने में परेशानी होती है, इसीलिए इसमें अधिक समय लगेगा। सेना ने दावा किया कि यदि पूरा समय दिया जाए तो यह एफओबी पांच दिनों में बन सकता है।

यह भी पढ़ें : एलिफिंस्टन हादसा: ब्रिज पर बने टिकट घर को हटाया गया




Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement