अनारक्षित रेलवे यात्रियों के लिए अब ‘बायोमेट्रिक टोकन’

मध्य रेलवे ने इस योजना को शुरू करने का फैसला किया है।

SHARE

लंबी दूरी में यात्रा करनेवाले यात्रियों के लिए एक अच्छी खबर है। अनारक्षित टिकटों पर यात्रा करनेवाले यात्रियों के लिए रेलवे ने एक अच्छी शुरुआत करने का फैसला किया है। रेलवे ने अब अनारक्षित रेलवे यात्रियों के लिए  ‘बायोमेट्रिक टोकन’ की व्यवस्था करने का फैसला किया है।  सामान्य टिकट खरीदने के बाद  मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में,अनारक्षित   यात्रियों को अपने अंगूठे का निशान देने के  'बायोमेट्रिक टोकन' दिया जाएगा। मध्य रेलवे ने इस योजना को शुरु करने का फैसला किया है। 

हाईटेक टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल

जनरल टिकट पर कोई सीट नंबर नहीं होता है  इसलिए यात्रियों को अनारक्षित ट्रेनों से यात्रा करते समय लंबी कतारों में खड़ा होना पड़ता है।  लेकिन कुछ यात्री जबरदस्ती कर सीटों पर बैठ जाते है लेकिन अब रेलवे ने इसे खत्म करने का फैसला किया है।  रेलवे ने अब  यात्रियों के लिए बायोमेट्रिक टोकन देने का फैसला किया है।  रेलवे उच्च तकनीक की मदद से यात्रियों के लिए इसकी शुरुआत करने जा रही है।  

बॉयोमीट्रिक टोकन

टिकट ले जाने वाले यात्रियों को उनके अंगूठे के निशान के साथ उनका 'बेमेट्रिक टोकन'   दिया जाएगा। यह टोकन यात्रा से एक दिन पहले लिया जा सकता है। यात्रियों को टोकन के प्रस्थान से पहले रेलवे कर्मचारियों को टिकट दिया जाएगा। 

यह भी पढ़े- मुंबई विश्वविद्यालय ने 695 करोड़ रुपये के बजट को मंजूरी दी

संबंधित विषय