तीसरी लोकल ट्रेन की एंट्री अभी नहीं, पश्चिम रेलवे ने मंगाने से किया मना

'भेल' द्वारा बनाई गयी इस ट्रेन में काफी सारी गड़बड़ी सामने आने के बाद पश्चिम रेलवे ने रेलवे बोर्ड से तीसरी लोकल ट्रेन नहीं भेजने की अपील की है।

SHARE

पश्चिम रेलवे ने यात्रियों की सुविधा और सुखमय यात्रा के लिए विरार से चर्चगेट तक एसी लोकल ट्रेन चलाई है। यह एसी लोकल ट्रेन दिन भर में 12 चक्कर लगाती है। पहले पश्चिम रेलवे ने एक ही एसी लोकल ट्रेन शुरू किया था, उसके बाद दूसरी एसी लोकल चलाने का निर्णय लेते हुए पश्चिम रेलवे ने दूसरी एसी लोकल का ट्रायल शुरू किया। लेकिन ट्रायल के दौरान ही इस एसी लोकल में कई तकनीकी खामियां सामने आई। 'भेल' द्वारा बनाई गयी इस ट्रेन में काफी सारी गड़बड़ी सामने आने के बाद पश्चिम रेलवे ने रेलवे बोर्ड से तीसरी लोकल ट्रेन नहीं भेजने की अपील की है।

एसी लोकल ट्रेन में तकनीकी खामी 
पश्चिम रेलवे ने यात्रियों के लिए दूसरी एसी लोकल ट्रेन चलाने का निर्णय किया। इसके बाद मुंबई में जब दूसरी एसी लोकल ट्रेन आई तो पहले कुछ दिन के लिए इसे ट्रायल पर रखा गया। ट्रायल के दौरान ही दूसरी एसी ट्रेन के दरवाजे बंद होने में तकनीकी गड़बड़ी देखने को मिली। साथ ही सॉफ्टवेयर भी ठीक से काम नहीं कर रहा था, इसके अलावा पैसेंजर इनफार्मेशन सिस्टम में भी खामियां सामने आई।

तीसरी एसी लोकल ट्रेन की एंट्री अभी नहीं
इतनी सारी गड़बड़ी देखने के बाद पश्चिम रेलवे ने तीसरी एसी लोकल अभी मंगाने से मना कर दिया है। पश्चिम रेलवे ने इस बाबत सूचना रेलवे बोर्ड को दे दी है। आपको बता दें कि पश्चिम रेलवे ने कुल 12 एसी लोकल चलाने का निर्णय किया है, लेकिन एसी लोकल ट्रेन में इतनी सारी खामियों को देखते हुए पश्चिम रेलवे के लिए मुसीबत साबित हो सकती है।

संबंधित विषय