Advertisement

शिक्षको को लोकल ट्रेंन से यात्रा करने की मंजूरी अभी नहीं

दो दिन पहले, महाराष्ट्र राज्य शिक्षक परिषद ने मुंबई में लोकल ट्रेन में बिना टिकट यात्रा कर एक से आंदोलन भी किया था।

शिक्षको को लोकल ट्रेंन से यात्रा करने की मंजूरी अभी नहीं
SHARES

शिक्षकों द्वारा लोकल ट्रेन (local train) से यात्रा करने की अनुमति देने की मांग को राज्य सरकार ने खारिज कर दिया है। शिक्षकों (teachers) को छात्रों से संबंधित अन्य कामों के लिए शिक्षकों को स्कूल जाना पड़ता है। इसलिए मुंबई (mumbai) में शिक्षकों द्वारा लोकल ट्रेन से यात्रा करने की अनुमति मांग रहे हैं। दो दिन पहले भी शिक्षकों ने मुंबई में इस बाबत आंदोलन भी किया था।

मुंबई के स्कूलों में पढ़ाने वाले कई शिक्षक वसई, विरार, पालघर, कल्याण, पनवेल सहित अन्य दूरदराज इलाको से आते हैं। शिक्षक संघ मांग कर रहे हैं कि दूरदराज इलाके से आने वाले शिक्षकों को भी लोकल ट्रेन से यात्रा करने की अनुमति दी जाए क्योंकि अन्य साधनों से आने जाने में किराया काफी महंगा पड़ता है साथ ही काफी समय भी लगता है।

हालांकि, अब मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) ने इस संबंध में फैसला लेते हुए शिक्षको के अभी लोकल से यात्रा करने पर लगी पाबन्दी को अभी नहीं हटाने का फैसला किया है।

दो दिन पहले, महाराष्ट्र राज्य शिक्षक परिषद ने मुंबई में लोकल ट्रेन में बिना टिकट यात्रा कर एक से आंदोलन भी किया था। शिक्षक संघों ने मांग की है कि शिक्षकों को स्कूल जाने के लिए लोकल ट्रेन से यात्रा करने की अनुमति दी जाए, अन्यथा स्कूल को रिजल्ट करने की अवधि 20 दिनों के भीतर बढ़ानी चाहिए।

राज्य में चरणों में अनलॉक (unlock) की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। पॉजिटिविटी रेट और ऑक्सीजन बेड ऑक्यूपेंसी के आधार पर तय किया जा रहा है कि संबंधित जिला या निगम किस चरण में रखा जाएगा। हालांकि, पिछले हफ्ते मुंबई में सकारात्मकता दर में कमी और ऑक्सीजन बेड ऑक्यूपेंसी के बावजूद, मुंबई नगर निगम ने मुंबई में तीसरे चरण के प्रतिबंधों को बनाए रखने का फैसला किया है।  ऐसे में पाबंदियों से राहत पाने के लिए मुंबईवासियों को अभी और इंतजार करना होगा।

यह भी पढ़ें: आम लोगों के लिए लोकल ट्रेन, अभी करना पड़ सकता है इंतजार

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें