पश्चिम रेलवे के यात्रियों को भीड़ से मिलेगा छुटकारा, रेलवे ने किया यह उपाय

बताया जाता है कि दिन भर में ये ट्रेनें 54 चक्कर लगाएंगी। इन ट्रेनों को चलाने के लिए तकनीकी रूप से 60 फीसदी काम पूरा हो चूका है मात्र ओवर हेड वायर और सिग्नल का काम चल रहा है।

SHARE

वेस्टर्न रेलवे के यात्रियों को जल्द ही पीक ऑवर में होने वाली भीड़ से छुटकारा मिल सकता है। रेलवे बजट में जो प्रावधान किया गया है उसके अनुसार वेस्टर्न रेलवे में स्लो लाइन पर चलने वाली सभी ट्रेनों को जल्द ही 15 डिब्बों में तब्दील की जाएंगी।

अंधेरी से विरार तक 
इन 15 डिब्बों वाली ट्रेनों को अंधेरी से विरार तक चलाया जाएगा। इसके लिए 12 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है। बताया जा रहा है कि ये 15 डिब्बे की लोकल अगले साल जनवरी महीने से दौड़ना शुरू कर देंगी। अभी इस समय मात्र 5 ट्रेनें ही 15 डिब्बे की हैं जो विरार से चर्चगेट फास्ट लाइन पर चलाई जाती हैं।

60 फीसदी काम पूरा
बताया जाता है कि दिन भर में ये ट्रेनें 54 चक्कर लगाएंगी। इन ट्रेनों को चलाने के लिए तकनीकी रूप से 60 फीसदी काम पूरा हो चूका है मात्र ओवर हेड वायर और सिग्नल का काम चल रहा है। यही नहीं इसी साल दिसंबर तक प्लेटफॉर्म की लंबाई बढ़ाने का काम भी पूरा हो जाएगा। इसके बाद जनवरी महीने से in ट्रेनों को चालू किया जाएगा।

अगर वेस्टर्न रेलवे 15 डिब्बे वाली लोकल ट्रेन रेगुलर रूप से चालू होती है तो निश्चित रूप से यात्रियों को भीड़ से निजात मिलेगी।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें