Advertisement

"पेड़ चाहिए तो जंगल में जाइए"- हाईकोर्ट


"पेड़ चाहिए तो जंगल में जाइए"- हाईकोर्ट
SHARES

पेड़ों को काटा नहीं गया तो मेट्रो 3 कैसे बनेगा? ट्रेनों से होनेवाले हादसे कैसे रोके जाएंगे? ये सवाल बॉम्बे हाईकोर्ट ने बुधवार को एक याचिकाकर्ता से किया। साथ ही कोर्ट ने याचिकाकर्ता को कहा कि अगर आपको पेड़ चाहिए तो जंगल में जाइए।

दरअसल मेट्रो 3 के कार्य के लिए काटे जानेवाले पेड़ों के विरोध में पर्यावरण प्रेमियों ने सरकार के इस कदम के खिलाफ कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। जिसपर बुधवार को सुनवाई करते हुए कोर्ट ने याचिकाकर्ता से ये बात कही। साथ ही कोर्ट ने कहा कि आगामी एक दो-दिन में इस बारे में फैसला होगा।

यह भी पढ़े- सीएम ने किया मेट्रो 3 के काम का निरिक्षण

पहले कोर्ट ने पेड़ को ना काटने का आदेश दिया था, जिसके बाद पिछले कई दिनों से यहां काम बंद है। एमएमआरसी ने  कोर्ट से इस आदेश को हटाने की मांग की है।

यह भी पढ़े- प्रदूषण मंडल के परमिशन के बिना ही मेट्रो 3 का काम जारी

तो वहीं याचिकाकर्ता जोरू बाथेना का कहना है कि अगर उन्हें हाईकोर्ट से न्याय नहीं मिलता है तो वह सुप्रीम कोर्ट का भी दरवाजा खटखटा सकते हैं।

डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें