ठगी के मामले में नाइजीरियाई कपल गिरफ्तार

 Bhandup
ठगी के मामले में नाइजीरियाई कपल गिरफ्तार
ठगी के मामले में नाइजीरियाई कपल गिरफ्तार
See all

भांडुप पुलिस ने एक नाइजीरियाई कपल को ‘हनी ट्रैप’ के माध्यम से लोगों को धोखा देने के आरोप में  गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार कपल की पहचान न्नाग्बू ओरायजुका (39) और नेहारिका ओरायजुका (37) के  रूप में की गई है। आरोप है कि इन दोनों ने सुंदर महिलाओं के नकली फेसबुक प्रोफाइल बना कर कई युवकों को लाखों की चपत लगाई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ओरयजुका ने मर्सी जॉन के नाम से फेसबुक अकाउंट बनाया था और वह कई व्यापारियों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजता था। उन्ही में से एक व्यापारी संदीप सिंह ने फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार कर लिया था, संदीप शेयर ब्रोकर का काम करता है। इसके बाद फेसबुक पर ही ओरयजुका की पत्नी नेहारिका ने संदीप को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा जिसे संदीप ने एक्सेप्ट कर लिया।

फिर आए दिन ओरयजुका की पत्नी ने संदीप के साथ बातें करना शुरू कर दिया। नेहारिका ने खुद को यूके स्थित फार्मास्यूटिकल कंपनी के कर्मचारी के रूप में बताया था। नेहारिका ने उसने संदीप को हर्बल बीज कारोबार में निवेश करने के लिए प्रेरित किया और उसे निवेश पर भारी रिटर्न का दावा भी किया। संदीप ने नेहारिका के झांसे में आ बीजों के सप्लायर से 2.5 लाख रुपये के हर्बल बीज खरीदा।

संदीप ने जिससे बीज ख़रीदा वह कोई और नहीं बल्कि ओरयजुका ही था। ओरयजुका ने खुद को ब्रिटेन की एक कंपनी के मालिक के रूप में पेश किया, ओरयजुका से मिलने के बाद संदीप 50 हर्बल बीज पैकेट का आर्डर दिया और उसके ओरयजुका के खाते में आरटीजीएस के माध्यम से 10 लाख रुपये जमा भी करा दिया। खाते में पैसा आने के बाद ओरयजुका ने अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया। संदीप को कुछ दिन बाद फिर से फोन आया और उन्हें कहा गया कि उनके द्वारा जमा कराया गया पैसा वापस पाना है तो उन्हें 1.26 लाख रुपये भरने पड़ेंगे। संदीप ने वह राशि भी भर दी। लेकिन संदीप को कुछ पैसा नहीं मिला।

आखिरकार, संदीप को पूरे प्रकरण के बारे में संदेह हो गया और उन्होंने भांडुप पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। लेकिन तब तक यह नाइजीरियाई जोड़ा दिल्ली भाग गया था। जोन 7 के उपायुक्त सचिन पाटील ने बताया कि इस जोड़ें ने दिल्ली जाकर में भी कई लोगों को ठगा था। मुंबई पुलिस ने दिल्ली जाकर गुड फ्राईड के दिन एक चर्च से इस जोड़े को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस को इनके पास से 14 मोबाइल फोन, विभिन्न देशों के सिम कार्ड, इंटरनेट डोंगल, मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव, लैपटॉप सहित अन्य सामग्री भी मिला। अब पुलिस इन दोनों को हिरासत में लेकर आगे जांच कर रही है।


Loading Comments