भीमा कोरेगांव हिंसा: फरार तीन आरोपी गिरफ्तार


  • भीमा कोरेगांव हिंसा: फरार तीन आरोपी गिरफ्तार
SHARE

पुणे के भीमा-कोरेगांव हिंसा मामले में पुलिस ने तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनके नाम सुधीर ढवले, एडवोकेट सुरेंद्र गडलिंग और रोना जैकब विल्सन है। सुधीर को मुंबई के गोवंडी इलाके से गिरफ्तार किया गया तो एडवोकेट सुरेंद्र गडलिंग को नागपुर से जबकि रोना जैकब विल्सन को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया। आरोप है कि इन तीनों ने भीमा कोरेगांव हिंसा के पहले विवादित पर्चे बांटे थे और हेट स्पीच दी थी। इनके खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है। इसी मामले में जिग्नेश मेवानी और उमर खालिद पर भी केस दर्ज हुआ है।


यह भी पढ़ें: भीमा कोरेगांव हिंसा - पुलिस ने 120 लोगों पर दर्ज किया मामला !


नक्सलियों से है संबंध 

गिरफ्तार सुधीर ढवले एक दलित कार्यकर्ता है जो sc/st एक्ट के प्रभावी अमल के लिए अभियान चलाए हुए हैं। साथ ही ढवले रिपब्लिकन पैंथर पार्टी का संस्थापक सदस्य भी हैं। इसके पहले ढवले को माओवादियों से संबंधों के आरोप में 2011 में भी गिरफ्तार किया गया था।

                                                                फोटो: सुधीर ढवले 

नागपुर से गिरफ्तार किये गए वकील सुरेंद्र गाडगील को नक्सलियों के वकील के रूप में पहचाना जाता है। वे नक्सलियों के पक्ष में कई केस लड़ चके हैं। साथ ही दिल्ली से गिरफ्तार गाडगिल का संबंध रोना जैकब विल्सन से भी बताया जाता है. इसीलिए रोना जैकब को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया।


यह भी पढ़ें: भीमा-कोरेगांव हिंसा: दर्ज केस होंगे वापस, मुख्यमंत्री ने की घोषणा


क्यों हुई गिरफ्तारी

आपको बता दें कि 1 जनवरी के दिन पुणे के भीमा कोरेगांव में हिंसा भड़क गयी थी जिसमें एक शख्स की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हुए थे। इस हिंसा का महाराष्ट्र में व्यापक असर पड़ा था। इसी मामले में एट्रासिटी एक्ट के तहत संभाजी ब्रिगेड के संभाजी भिड़े 'गुरुजी' और हिंदू एकता अगाड़ी के अध्यक्ष मिलिंद एकबोटे को आरोपी बनाया गया हैं।

यह भी पढ़ें : आरोप रद्द करने के लिए एकबोटे की याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई नहीं

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें