महाराष्ट्र में बीजेपी ने की फर्जिकल स्ट्राइक- उद्धव ठाकरे

शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा की बीजेपी ने शिवसेना के विधायको को भी तोड़ने की कोशिश की लेकिन वह कामयाब नहीं हो पाए

SHARE

राज्य में सत्ता का समीकरण दिन ब दिन बदल रहा है। शुक्रवार शाम तक जहां एनसीपी प्रमुख शरद पवार कह रहे थे की कांग्रेस,एनसीपी और शिवसेना में मुख्यमंत्री पद के लिए उद्धव ठाकरे के नाम की सहमति बन गई है तो वही दूसरी ओर शनिवार सुबह होते होते राज्य की सियासी तस्वीर ही बदल गई। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली तो वही एनसीपी के अजित पवार ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली।  बताया जा रहा है की एनसीपी के कई विधायको ने शरद पवार के खिलाफ जाकर अजित पवार को अपना समर्थन दिया। लेकिन शनिवार की दोपहर को प्रेस कॉफ्रेंस कर शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे और  एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने एक बार फिर कहा की तीनों ही पार्टियां एक साथ है। 

बीजेपी ने की फर्जिकल स्ट्राइक 

शिवसेना पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने प्रेस कॉफ्रेंस कर बीजेपी पर एक बार फिर से निशाना साधा। उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर छत्रपति शिवाजी महाराज के महाराष्ट्र पर फर्जिकल स्ट्राइक करने का आरोप लगाया।  उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर आरोप लगाया की  उनके भी विधायको को तोड़ने की कोशिश की गई लेकिन बीजेपी इसपर सफल नहीं हो पाई। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा है कि पहले ईवीएम का खेल चल रहा था और अब यह नया खेल है। इसके बाद से मुझे नहीं लगता कि चुनावों की भी जरूरत है। किसी को भी पता है कि छत्रपति शिवाजी महाराज ने कैसे विश्वासघात किया था और पीछे से हमला किया।


इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बीच एनसीपी के विधायक राजेंद्र शिंगणे ने खुलासा किया कि अजीत पवार ने मुझे कुछ चर्चा करने के लिए बुलाया था और वहां से मुझे अन्य विधायकों के साथ राजभवन ले जाया गया। इससे पहले कि हम समझ पाते शपथ समारोह पूरा हो गया। मैं अजीत पवार साहब के पास गया और उनसे कहा कि मैं शरद पवार और एनसीपी के साथ हूं।

यह भी पढ़े- अंदाजा नहीं था अजित पवार ऐसा करेंगे- शरद पवार

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें