Advertisement

फडणवीस ने उद्धव सरकार पर कसा तंज, कहा - 'सरकार अपने ही बोझ के कारण गिर जाएगी'

एक तरह से MVA सरकार पर तंज कसते हुए पूर्व सीएम ने कहा कि, कोई भी राज्य सरकार को कमजोर नहीं करना चाहता है। यह सरकार अपने बोझ से ही गिर जाएगी। हम सरकार को गिराने की कोशिश नहीं कर रहे हैं।'

फडणवीस ने उद्धव सरकार पर कसा तंज, कहा - 'सरकार अपने ही बोझ के कारण गिर जाएगी'
SHARES

महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता (LoP), देवेंद्र फड़नवीस (devendra fadnavis) ने मंगलवार को इन अटकलों को खारिज कर दिया कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) उद्धव ठाकरे सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है। भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि, शिवसेना की अगुवाई वाली महा विकास गठबंधन (MVA) सरकार अपने ही बोझ के कारण गिर जाएगी।

मंगलवार को सोशल मीडिया के द्वारा फडणवीस ने लाइव आकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में फडणवीस ने मौजूदा ठाकरे सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, 'राज्य सरकार अभी भी केंद्र की ओर से उपलब्ध कराई गई आर्थिक मदद भी खर्च नहीं कर पाई है। मैं यह समझ ही नहीं पा रहा हूं कि राज्य सरकार की प्राथमिकता क्या है।

फडणवीस ने कहा, आज राज्य को सकारात्मक नेतृत्व चाहिए। मैं आशा करता हूं कि उद्धव ठाकरे उचित फैसले लेंगे।

तख्ता पलटने की बात को लेकर फडणवीस ने कहा, 'कोविड-19 की गंभीर स्थिति को देखते हुए हमारी राज्य की सरकार को बदलने में रुचि नहीं है। हम कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ रहे हैं और इसके लिए राज्य सरकार पर दबाव बनाना चाहते हैं।'

एक तरह से MVA सरकार पर तंज कसते हुए पूर्व सीएम ने कहा कि, कोई भी राज्य सरकार को कमजोर नहीं करना चाहता है। यह सरकार अपने बोझ से ही गिर जाएगी। हम सरकार को गिराने की कोशिश नहीं कर रहे हैं।'

इससे पहले सोमवार को, भाजपा सांसद नारायण राणे ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की। बीजेपी नेता ने आरोप लगाया कि उद्धव ठाकरे सरकार राज्य में कोरोनो वायरस महामारी से निपटने में विफल हो रही है।

इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, फडणवीस ने कहा, विपक्ष महाराष्ट्र में सरकार को अस्थिर करने की कोशिश नहीं रहा था और सरकार बनाने हमारी कोई मंशा भी नहीं है।

आपको बता दें कि जब से नारायण राणे ने राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी से मुलाकात की है तभी से ही राजनीति तेज हो गई है और यह अटकलें लगना शुरू हो गए कि बीजेपी तख्ता पलटने की तैयारी कर रही है।

राज्य में कोरोना के बढ़ते हुुयेे प्रकोप को देखते हुए भाजपा ने राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की है। तो वहीं कांग्रेस कह रही है कि भाजपा सत्ता से बाहर हो गई है और इस बात को बर्दाश्त नहीं कर पा रही है। साथ ही शिवसेना नेता संजय राउत कहते हैं कि सरकार मजबूत है, चिंता का कोई विषय नहीं है। 

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें