हम शिव सेना के साथ नहीं जाएंगे- शरद पवार

बीजेपी-शिवसेना गठबंधन पर शरद पवार ने कहा कि जनता ने 220 सीटों के दावे को स्वीकार नहीं किया।

SHARE

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गये हैं, रिजल्ट के अनुसार एक बार फिर से बीजेपी और शिवसेना गठबंधन को जनता ने मौका दिया है। लेकिन इस चुनाव में बीजेपी को झटका भी लगा है। पिछली बार की अपेक्षा इस बार उसकी लगभग 20 सीटें कम आई हैं जबकि शिव सेना ने अपनी 2-3 सीटें छोड़ कर सभी सीटें बचाई हैं। हालांकि, अभी गिनती जारी है तो सीटों की संख्या भी ऊपर नीचे हो सकती है। इसी कड़ी में एनसीपी ने भी कांग्रेस से बेहतर प्रदर्शन किया है। कांग्रेस जहां 45 सीटों के अंदर सिमट गयी तो वहीं एनसीपी ने 55 से अधिक सीटों पर जीत दर्ज की है। बीजेपी-शिवसेना को लेकर शरद पवार ने कहा कि जनता ने 220 सीटों के दावे को स्वीकार नहीं किया।

पत्रकारों से बात करते हुए शरद पवार ने कहा कि जिन लोगों ने पार्टी का साथ दिया वह उन्हें धन्यवाद देते हैं और वह इस जनादेश को स्वीकार करते हैं। उन्होंने कहा कि वे शिव सेना के साथ नहीं जाएंगे और एनसीपी, कांग्रेस और दूसरे सहयोगी मिलकर आगे की रणनीति तय करेंगे।

शरद पवार ने कहा कि सत्ता आती है और जाती है लेकिन प्रतिबद्धता जरूरी होती है। उन्होंने कहा कि एक और जरूरी बात कि जो हमें छोड़कर गए, उन्हें स्वीकार नहीं किया गया है। 

दलबदलुओं पर निशाना साधते हुए शरद पवार ने कहा,  जिन लोगों ने हमें छोड़ा जनता ने उन्हें स्वीकार नहीं किया। दल बदलना उनके पक्ष में नहीं रहा जिन्होंने हमें छोड़ा।

एनसीपी चीफ ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस-एनसीपी ने साथ मिलकर काम किया। उन्होंने आगे कहा, 'यह जो माहौल पैदा किया गया था कि 220 से आगे जाएंगे, उसे जनता ने खारिज किया है।  

पढ़ें: चुनाव रिजल्ट का देखें लाइव अपडेट, क्लिक करें 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें